सिर्फ प्रभु/महापिता हैं। और कुछ नहीं। और कोई नहीं

महा समाधि स्थान

महा समाधि मंदिर दक्षिण दिशा में स्थित है यहाँ गुरुजी की शारीरिक काया को भुगार्भित किया गया है.वैदिक मन्त्रों के साथ वाराणसी से लाया गया शिवलिंग को महा समाधी पर स्थापित किया है,रोजाना दो बार महा समाधी की पूजा वेड मन्त्रों के जाप के साथ की जाती है. वेड मंत्र गुरूजी को अधिक प्रिय थे.